154 views 0 comments

…पैडमैन नहीं पैड वुमेन्स कहें जनाब

by on February 9, 2018
 
Spread the love

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार ने सैनेटरी पैड जैसे संवेदनशील विषय को लेकर फिल्म क्या बनाई हर क्षेत्र से इसे समर्थन मिलना शुरू हो गया। बॉलीवुड, क्रिकेट, बैडमिंटन, टेनिस हर क्षेत्र के सितारों ने पैडमैन चैलेंज लिया और सैनेटरी पैड के साथ फोटो खिचवाकर इसे सोशल मीडिया पर शेयर किया। अक्षय कुमार की फिल्म से करीब दो वर्ष पहले ही दिल्ली का एक कॉलेज और उसकी छात्राएं पैडमैन चैलेंज ले चुकी हैं। लक्ष्मी बाई कॉलेज और उसकी छात्राएं लोगों की रुढि़वादी सोच से कहीं आगे हैं। छात्राएं अपने कॉलेज परिसर में ही सैनेटरी पैड बनाती हैं और इन्हें गरीब महिलाओं और बच्चियों को दिया जाता है।

कॉलेज में ही है सैनेटरी पैड बनाने की मशीन..

लक्ष्मी बाई कॉलेज की प्रिंसिपल प्रत्युषा वत्सला ने बताया कि वर्ष 2015 में विश्वविद्यालय से इनोवेशन प्रोजेक्ट के नाम पर हमारे कॉलेज को पांच लाख रुपये का अनुदान दिया था। हमने सैनेटरी
नैपकिन का एक छोटा सा प्लांट कॉलेज परिसर में ही लगवाया। ढ़ाई लाख रुपये में सैनेटरी पैड बनाने वाली मशीन खरीदी गई। बाकी की रकम का इस्तेमाल हमने रॉ मैटीरियल और प्रमोशन में खर्च किया। बीते दो साल से कॉलेज की छात्राएं सैनटरी पैड बना रही हैं। इन्हें गरीब महिलाओं और बच्चियों को मुफ्त दिया जाता है।

दो रुपये प्रति पैड की लागत भी नहीं निकाल पाता कॉलज..

प्रत्युषा वत्सला के मुताबिक प्रत्येक पैड का बाजार भाव करीब पांच रुपये है, लेकिन पैड को बनाने की लागत दो रुपये आती है। समस्या यह है कि गरीब बालिकाओं और महिलाओं से हमें यह राशि भी नहीं मिल पाती है। अब डीयू से किसी प्रकार का अनुदान इस प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने के लिए हमे नहीं मिलता है। ऐसे में लागत नहीं मिल पाने से अक्सर हमें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

छात्राएं चलाती हैं जागरुकता अभियान..

प्रिंसिपल ने बताया कि हमारा गल्र्स कॉलेज है। प्रत्येक विषय की छात्राएं इस प्रोजेक्ट का हिस्सा हैं। छुट्टी के दिन व अतिरिक्त समय मिलने पर हम झुग्गी बस्ती इलाकों में गरीब बच्चों को पढ़ाने के साथ-साथ जागरुकता अभियान चलाया जाता है। कॉलेज की छात्राएं एक माह में करीब 100 से 200 सैनेटरी पैड बना लेेती हैं। पढ़ाई, एग्जाम व अन्य गतिविधियों के बीच छात्राएं समय निकाल कर सैनेटरी पैड बनाती हैं और फिर इन्हें गरीब महिलाओं को मुफ्त दिया जाता है।

Be the first to comment!
 
Leave a reply »

 

You must log in to post a comment